समर्थक

गुरुवार, 24 मई 2012

मान न मान मैं तेरा मेहमान

ATT00001

10 टिप्‍पणियां:

  1. हम तो बापस जा रहे हैं ...
    नमस्ते !

    उत्तर देंहटाएं
  2. कुछ लोग बिना सोचे-समझे लिख लेते हैं। आपकी पारखी नजर को सलाम।

    उत्तर देंहटाएं
  3. हम तो बार-बार घंटी बजाएँगे. वह उड़ कर आएगा :))

    उत्तर देंहटाएं