समर्थक

बुधवार, 23 नवंबर 2011

फ़रमाईश

भंगेरन : मैं तुम्हे सच में बहुत पसंद करता हूँ.........

भगजोगनी : मेरी चप्पल का साइज पता है न... ?

भंगेरन : लो कर लो बात........ दोस्ती हुई नहीं कि.... फ़रमाईश शुरु...!

13 टिप्‍पणियां:

  1. प्रतिकूल में अनुकूल ढूँढ लेना भी योग है :))

    MEGHnet पर Three popular jokes from cremation ground आपकी प्रतीक्षा में हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  2. log hansne ke liye subah kisi bag men jate hain, ham aapke blog par aayenge.

    उत्तर देंहटाएं