समर्थक

बुधवार, 6 जुलाई 2011

क्या देख रहे हो?

खदेरन बहुत देर से मैरिज सर्टिफ़िकेट को घूरे जा रहा था।

फुलमतियाजी ने पूछा, “क्या देख रहे हो?”

खदेरन ने कहा, “कुछ नहीं।”

फुलमतिया जी ने कहा, “तो घंटे भर से हमारे मैरिज सर्टिफ़िकेट में क्या पढ़ रहे हो?”

खदेरन ने बताया, “बस, इसमें इसकी  एक्सपायरी डेट ढ़ूंढ़ रहा थ!”

9 टिप्‍पणियां:

  1. इतना भी नहीं पता जब चीज लेते है तभी उसका एक्सपायरी डेट देखते है अब देखने से क्या फायदा |

    उत्तर देंहटाएं
  2. haa
    अब खोजत क्या होत हे ...!
    मज़ेदार!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. फिर तो बेचारा खोजता ही रह जायेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये एक्सपाइरी इंसान की एक्सपाईरी के साथ ही आती है (?)...

    उत्तर देंहटाएं
  5. मजिस्ट्रेट की गलती को ढूँढ लिया खदेरन ने :))

    उत्तर देंहटाएं