समर्थक

रविवार, 17 जुलाई 2011

आंखों का परीक्षण

images (45)खदेरन का दोस्त भुटकुन एक दिन खदेरन को अपनी समस्या बता रहा था। बोला, “दोस्त, मैं कुछ पढ़ नहीं पाता।”

खदेरन बोला, “कोई बात नहीं, तू डॉक्टर से दिखा ले सब ठीक हो जाएगा।”

भुटकुन डॉक्टर के पास गया। डॉक्टर उसकी आंखों का परीक्षण कर रहा था।

images (46)भुटकुन ने पूछा, “डॉक्टर साहब! चश्मा लगाने से मैं पढ़ सकूंगा?”

डॉक्टर ने जवाब दिया, “हां-हां, क्यों नहीं।”

भुटकुन ने राहत की सांस लेते हुए कहा, “ओह! फिर तो बहुत अच्छा रहेगा, अभी तक तो  मुझे पढ़ना भी नहीं आता था।”

8 टिप्‍पणियां: