समर्थक

शनिवार, 21 नवंबर 2009

फाटक बाबू-2

फाटक बाबू-2



उस दिन फाटक बाबू अदालत में हाजिर थे। सरकाहरी गवाह बनकर। बचाव पक्ष के वकील ने उनसे प्रश्न पूछा।


वे लगे विस्तार से जवाब देने। वकील ने उनसे काहा, “आप सिर्फ हां या ना में जवाब दीजिए। इतना डिटेल में मत समझाइए। ”

इस पर फाटक बाबू बोले - “हर प्रश्न का उत्तर हां या ना में नहीं हो सकता। ”

यह सुन सरकारी वकील रूष्ट हो गए। बोले - “आप ऐसा कैसे कह सकते हैं ? क्यों नहीं हो सकता है ?”

तो फाटक बाबू ने चैलेंज किया, “क्या आप मेरे प्रश्न का उत्तर हां या ना में दे सकते हैं?”

वकील साहब ने चैलेंज स्वीकार किया, “बिल्कुल दे सकता हूँ।”

फाटक बाबू ने पूछा, “तो बताइए, क्या आप आज भी अपनी पत्नी से पिट कर आ रहें हैं ?”

वकील साहब क्या उत्तर दें – हां या नहीं .....................

**************************************************************************
अगर पसंद आया तो ठहाके लगाइएगा
**************************************************************************

7 टिप्‍पणियां:

  1. वकील साहब की बेबसी समझी जा सकती है ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. ha...ha...ha...ha.

    ab den jawaab vakeel saahab
    aanand aa gaya .... bahut khoob

    aabhaar
    shubh kamnayen

    उत्तर देंहटाएं
  3. कृपया वर्ड वैरिफिकेशन की उबाऊ प्रक्रिया हटा दें !

    बहुत ही आसान तरीका :-
    ब्लॉग के डेशबोर्ड पर जाएँ > सेटिंग पर क्लिक करें > कमेंट्स पर क्लिक करें >
    शो वर्ड वैरिफिकेशन फार कमेंट्स > यहाँ दो आप्शन होंगे 'यस' और 'नो' बस आप "नो" पर टिक
    कर दें >नीचे जाकर सेव सेटिंग्स कर दें !

    उत्तर देंहटाएं
  4. hahahahahahah.........

    bahut achcha laga aapka blog.....

    tanaav bhare palon se baahar nikalne ke liye ab apke blog par aata rahunga...


    aabhaar........

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सारे सवालो के जवाब ऐसे ही है हाँ भी मुश्किल ना भी मुश्किल

    उत्तर देंहटाएं