समर्थक

शनिवार, 15 जनवरी 2011

उत्तम उपहार!!

खंजन देवी ने फोन खटकाया

और अपनी परेशानी डॉक्टर को बताया।

“आपसे एक निवेदन है

मेरी परेशानी का निदान करें,

वजन घटाना है,

ज़रा जल्दी से उसका समाधान करें।

इस नए वर्ष पर मेरे पति फाटक बाबू ने

एक उत्तम उपहार दिया तो सही

पर समस्या यह है कि मैं

उसमें घुस नहीं पा रही।”

 

समस्या सुनकर डॉक्टर ने कहा,

“कल आप यहां आ जाएं

और आकर अपनी समस्या के

ईलाज का नुस्ख़ा ले जाएं।

मेरा दावा है इसके प्रयोग करते ही

आप अपना वजन कमा सकेंगी

और पति के द्वारा दिए गए ड्रेस में

आसानी से समा सकेंगी।”

 

सुनकर डॉक्टर की बात

खंजन देवी ने फ़रमाया,

“कमाल है, ड्रेस की बात

आपके मन में कैसे समाया।

आप जो सोच रहे हैं

वह फ़ालतू है, निराधार है!

जिसमें मैं समा नहीं पा रही,

वह तो नई, चमचमाती कार है!!”

17 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत शानदार ...आनंद आ गया ...सन्देश देने का सही प्रयास .....शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  2. खंजन देबी को सलाह दीजिए कि Kelloges खाईए एक दिन में तीन कटोरी ।उनका वजन एक सप्ताह में घटकर आधा हो जाएगा और वे अपनी नई चमचमाती कार में समा जाएंगी। मजेदार पोस्ट। सुजाता सिंह, पुत्री प्रेम सागर सिंह,कोलकाता।

    उत्तर देंहटाएं
  3. कार ने दी वज़न घटाने की प्रेरणा :))

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह क्या कमाल की हास्य - फुहार है आज तो मज़ा आ गया ...

    उत्तर देंहटाएं
  5. वाह .. क्या बात है... हँसी के फुहार छूट गए... आपकी पोस्ट और ब्लॉग कल चर्चामंच में होंगे | आभार

    उत्तर देंहटाएं
  6. भावाव्यक्ति का अनूठा अन्दाज ।
    बेहतरीन एवं प्रशंसनीय प्रस्तुति ।
    हिन्दी को ऐसे ही सृजन की उम्मीद ।
    धन्यवाद....
    satguru-satykikhoj.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं