समर्थक

सोमवार, 9 अगस्त 2010

वायरस बनाम रैंचो

हंसना ज़रूरी है, क्यूंकि …


हंसने से इधर-उधर भटक रहा मन स्थिर हो जाता है और ध्यान लगाना असान हो जाता है।

वायरस बनाम रैंचो


चेमिस्ट्री की क्लास चल रही थी. वाइरस गुरु ने तीनो इडिअट से सवाल पूछना शुरू किया,

वाइरस : राजू ! बेरियम का चेमिकल फ़ॉर्मूला क्या होता है ?

राजू : सर ! बीए.

वाइरस : ओके ! फरहान, सोडियम का फ़ॉर्मूला क्या होता है ?

फरहान : एन ए.

वाइरस : वेरी गुड़. रैंचो, वन एटम ऑफ़ बेरियम और टू एटम ऑफ़ सोडियम मिल कर क्या बनायेंगे ?

रैंचो अपने बालों में अंगुली घुमाते हुए बोला : अ... अ... सर... केला... केला.... बनाना....!

वायरस : यू इडिअट... कैन यू प्रूव इट ?

रैंचो : एस सर.... वन एटम ऑफ़ बरियम + टू एटम ऑफ़ सोडियम = Ba+Na+Na = BaNaNa = केला.... !!!!

हा... हा... हा... हा.... !!!

21 टिप्‍पणियां:

  1. ha ha ha ha ...
    ye vaastav mein ...चेमिस्ट्री hai...
    ha ha ha ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. हमारे मास्टर आजकल सही में रोबोट ही बनाते हैं....बच्चे की क्षमता को उनका ज्ञान ही नहीं होता जी...हेहेहेहेहेहेहहेे

    उत्तर देंहटाएं
  3. aise hi gyani paida ho rahe hai ........kitabi gyani vyvharik nahi .........

    उत्तर देंहटाएं
  4. Hi..

    Nice.. Chemestry main nayi khoj..

    Noble puruskaar layak..

    Haha

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत अच्छी प्रस्तुति।
    राजभाषा हिन्दी के प्रचार-प्रसार में आपका योगदान सराहनीय है।

    उत्तर देंहटाएं
  6. ha ha ha ha ...
    ye vaastav mein ...चेमिस्ट्री hai...
    ha ha ha ...

    उत्तर देंहटाएं
  7. haa haahaaha...............
    aap bht accha kaam kar rahi hai,logon ko khush karne kaa..
    mere blog par aap sadar aamantrit hai....
    dhanyawaad

    उत्तर देंहटाएं