समर्थक

शुक्रवार, 7 मई 2010

कब.. क्यूं, .. कैसे ???

 

 

नहीं छोड़ूंगा श्रीमान जी “अजी सुनती हो !”

श्रीमती जी “क्या है?”

श्रीमान जी “मुझे 20 हजार की लौटरी निकली है ।”

श्रीमती जी “पहले ये बताओं बगैर मुझसे पूछे हुए तुमने लौटरी कब.. क्यूं, .. कैसे खरीद ली… ??? ”

13 टिप्‍पणियां:

  1. हा -हा - हा--- सुन्दर।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. बताओ!! बड़ी बुरी हालत है.

    उत्तर देंहटाएं
  3. सही ही तो है...बिना पूछे कोई काम नहीं करना चाहिए ..:-)

    उत्तर देंहटाएं
  4. bilkul sahee.... ! kuchh bhee ho paariwaarik niyam to nahee todna chaahiye... !!!

    उत्तर देंहटाएं
  5. आप तो जी बस लाजवाब हो....मियां की आखिर इतनी हिम्मत हुई कैसे कि बिना पूछे टिकट खरीद ली....गलती कर ली तो लो अब इतने पैसे जीतने के बाद भी पिटो...

    उत्तर देंहटाएं
  6. आखिर हिम्मत कैसे हुई
    हद है

    उत्तर देंहटाएं