समर्थक

सोमवार, 31 मई 2010

साफ-सफाई

उस दिन बौस राउंड पर थे। खासकर साफ-सफाई का मुआयना कर रहे थे। अनुभाग के सरे कर्मचारियों को एकत्रित किया और पूछे, “बताइए क्या आपने दफ्तर में घुसने के पहले अपने गंदे पैरों को मैट पर साफ किया था। हमें साफ-सफाई का पूरा ख्याल रखना चाहिए।

सारे कर्मचारी एक स्वर में बोले, “जी हां सर। हमने मैट पर अपने पैरों को साफ किया था।

बॉस ने खुलासा किया, “हमें सच का भी ख्याल रखना चाहिए ऑफिस के दरवाजे पर कोई मैट नहीं है।




अगर पसंद आया तो दिल खोलकर ठहाका लगाइएगा।

13 टिप्‍पणियां:

  1. हा हा
    बहुत मजेदार : यह तो सच का सामना है

    उत्तर देंहटाएं
  2. सही है..बिना सोचे-समझे झूठ भी नहीं बोलना चाहिए

    उत्तर देंहटाएं
  3. जितना ज़ोर का ठहाका लगा है वो कीबोर्ड से दर्ज नहीं हो सकता। हम सच का ख़्याल रख रहे हैं इसीलिए यह लिखा।
    :))))))

    उत्तर देंहटाएं
  4. मैट तो जब वी होगा तभी न....जब वी मैट न....नहीं क्या

    उत्तर देंहटाएं