समर्थक

शुक्रवार, 2 जुलाई 2010

मिस कॉल

हंसी के बारे में …

हंसना एक दवा है। हंसी का हमारे शरीर और मन दोनों पर एक सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जब हम हंसते हैं तो हमारे दिमाग से एक हॉर्मोन निकलती है। इस हॉर्मोन का नाम है एन्डोरफिन। यह हॉर्मोन हमारे शरीर को ऊर्जा से भर देता है।

हास्य फुहार : मिस कॉल

खंजन देवी फाटक बाबू को बता रही थी, “खदेरन एक नम्बर का कंजूस है।”

फाटक बाबू, “अच्छा! पर तुम्हें कैसे पता?”

खंजन ने समझाया, “ अब उसके कंजूसी का नमूना देखिए। एक बार उसके घर में आग लग गई। पर वह अपनी कोशिशों के बावज़ूद भी घर को जलने से बचा नहीं पाया।”

फाटक बाबू आश्चर्य से बोले, “क्यों?”

खंजन देवी ने बताया, “क्योंकि वो सारी रात फायब्रिगेड वालों को मिस कॉल ही मारता रहा।”

[image[4].png]

4 टिप्‍पणियां: