समर्थक

शुक्रवार, 23 जुलाई 2010

इलाज़

हंसना ज़रूरी है, क्यूंकि …

हंसने से मानसिक तनाव में कमी आती है।

इलाज़

 

खदेरन की तबियत अचानक बिगड़ गई। पूरा बदन दर्द से टूट रहा था। बुखार भी उतरने का नम नहीं ले रहा था। पहुंचा डाक्टर उठावन सिंह क्लिनिक इलाज़ के वास्ते।

 

डाक्टर उठावन उसका पूरा चेक अप करने के उपरांत बोले, “मलेरिया है।”

यह सुन कर खदेरन पूछ बैठा, “डॉक्टर साहब! मैं अच्छा तो हो जाऊँगा ना?”

डाक्टर उठावन सिंह ने कहा, “हां! क्यों? तुम्हारे मन में यह प्रश्‍न क्यों आया?”

खदेरन ने जवाब दिया, “जी मैंने सुना है कि कभी-कभी डॉक्टर मलेरीया का इलाज़ करता रह जाता है और मरीज़ टायफाइड से मर जाता है।”

डाक्टर उठावन सिंह ने उसे आश्वस्त किया, “फ़िक्र मत करो। मेरे इलाज़ से मलेरिया का मरीज़ मलेरिया से ही मरता है।”

16 टिप्‍पणियां:

  1. हा हा!! चलो कम से कम डायगनोसिस तो सटीक है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. हंसना बिल्कुल ज़रूरी है। इतने अच्छे हास्य पर तो और भी ज़रूरी है।
    हा-हा-हा.....

    उत्तर देंहटाएं
  3. चलो योग्यता प्रमाणित हो गयी.

    उत्तर देंहटाएं