समर्थक

शनिवार, 16 अक्तूबर 2010

सफेद बाल

सफेद बाल

खदेरन का बेटा भगावन अपने पिता के सफेद बाल देख कर पूछा, “पापा आप के सिर के बाल सफेद क्‍यों हो रहे हैं?”

खदेरन फुलमतिया खदेरन ने उसे टालने के लिए कहा दिया, “तुम जब भी कोई शरारत करते हो मेरे सिर का एक बाल सफेद हो जाता है”

भगावन भी कम होशियार थोड़े ही था। बोला, “अब मैं समझा कि दादा जी के सिर के सारे बाल सफेद क्‍यों हैं?”

19 टिप्‍पणियां:

  1. और उनका क्या जिनके सर पर से बाल ही नदारद होते हैं ?

    उत्तर देंहटाएं
  2. हा हा हा..... बहुत खूब इसे कहते हैं हाज़िर जवाबी...

    मेरे ब्लॉग में इस बार...ऐसा क्यूँ मेरे मन में आता है....

    उत्तर देंहटाएं
  3. ए भौजी! ई आजकल का बचवन सब भी ईण्डिया में रहकर कम स्मार्ट नहीं हो गया है... बताइये तो हम लोग भारत के आदमी होकर आज तक कभी बोले होंगे अपने बाप से ई सब बात...!!!

    उत्तर देंहटाएं
  4. हा-हा-हा...
    हमारो बाल सब सफ़ेद हो गया है ...
    मज़ेदार!

    बहुत अच्छी प्रस्तुति।
    सर्वस्वरूपे सर्वेशे सर्वशक्तिसमन्विते।
    भयेभ्यस्त्राहि नो देवि दुर्गे देवि नमोsस्तु ते॥
    महानवमी के पावन अवसर पर आपको और आपके परिवार के सभी सदस्यों को हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई!

    चिठियाना-टिपियाना संवाद

    उत्तर देंहटाएं
  5. bahut khoob....hehehehehe
    bahut dhanyawad ..meri rachna par aapke aache comment ke liye .....

    उत्तर देंहटाएं
  6. हा हा हा……………बिल्कुल सही जवाब्।

    उत्तर देंहटाएं
  7. इसे कहते हैं हाज़िर जवाबी...बहुत बढ़िया!!

    उत्तर देंहटाएं