समर्थक

रविवार, 24 अक्तूबर 2010

चिंतन!

चिंतन!

फाटक बाबू ने इस दशहरे के दर्म्यान ने वस्त्रों की खरीद में एक टी शर्ट खरीद लिया। और अपनी टी शर्ट पर लिख दिया
image
खंजन देवी आज बहुत ख़ुश थीं। बोलीं, “SOLID JEE! THATS ATTITUDE! … THINK DIFFERENT & THINK POSITIVE!!”

14 टिप्‍पणियां:

  1. एकदम रिफ़्रेशिंग- Attitude Changes Everything. Great post with broad smiles.

    उत्तर देंहटाएं
  2. दृष्टिकोण सब कुछ बदल देती है.

    उत्तर देंहटाएं
  3. खंजन देवी से हम तो हमेशा सहमत रहते हैं। आज तो सबसे ज़्यादा.. हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  4. टी शर्ट को छोडिए, मेरा तो खून भी "बी पोसिटिव" है जी

    उत्तर देंहटाएं
  5. अच्छा ख़याल हे।...इस छोटी सी पंक्ति में बहुत बड़ा दर्शन छुपा हुआ है।

    उत्तर देंहटाएं
  6. ha...ha...ha...ha....ha...naa sirf hansi.....saath hi darshan bhi.....gahraayi bhi....ham to ho gaye chitt..........

    उत्तर देंहटाएं
  7. हमरे ऑफिस में एक लड़का यही कह्ता था कि उसको पचास साल का तजुर्बा है इस ऑफिस में..20 साल का अपना और 30 साल का पिता जी का. दरसल पिता जी के स्थान पर उसकी बहाली हुई थी.

    उत्तर देंहटाएं